Sunday, April 7, 2019

व्हीलचेयर क्रिकेट इंडिया एसोसिएशन





द्वितीय राष्ट्रीय व्हीलचेयर क्रिकेट प्रतियोगिता का आयोजन व्हीलचेयर क्रिकेट इंडिया एसोसिएशन द्वारा २ मार्च से
 १७ मार्च २०१९ के बीच में आयोजित की गयी।  २ मार्च को रायपुर, छत्तीसगढ़ से प्रारम्भ होकर १७ मार्च २०१९ को नोएडा, उत्तर प्रदेश में इसका फाइनल मैच पंजाब और छत्तीसगढ़ के बीच में खेला गया।इसे जीतकर पंजाब इस वर्ष का राष्ट्रीय चैंपियन बना। १६ दिनों तक चली इस प्रतियोगिता के दौरान तकरीबन १८० दिव्यांग खिलाडियों नै अपने जौहर का प्रदर्शन किया। लीग मैचों का आयोजन रायपुर, मुंबई और लखनऊ में करा गया जिससे ४ सेमी फाइनलिस्ट - पंजाब, गुजरात, कर्नाटक और छत्तीसगढ़ निकल कर आये। सेमीफइनल के दो मैच १६ मार्च २०१९को नोएडा में खेले गए। 

यह सारे खिलाडी किन्ही कारणवश व्हीलचेयर से चलने के लिए बाध्य हैं। लेकिन इसके बावजूद इन्होने अपने क्रिकेट खेलने के जज्बे को मरने नहीं दिया। गौर करने वाली बात यह हैं की न केवल खेलने वाले खिलाडी व्हीलचेयर पर हैं अपितु इसका आयोजन करने वाले भी अधिकतर लोग व्हीलचेयर का इस्तेमाल करते हैं।  इस वर्ष की राष्ट्रीय चैंपियन पंजाब के कप्तान  वीर सिंह संधू न केवल खेलते हैं बल्कि औरों को खेलने के मौके देने के लिए संस्था का सञ्चालन भी खुद करते हैं।  इसी प्रकार कर्नाटक के शिव प्रसाद, छत्तीसगढ़ से सुनील राव, दिल्ली के दीपक मग्गो और सोनू गुप्ता, हरयाणा के रमेश कुमार, गुजरात के भीमा खूंटी  जैसे कई उदहारण हैं जिन्होंने खेलने के साथ - साथ संस्था का सञ्चालन भी बखूबी निभाया हैं।  महाराष्ट्र की निशा गुप्ता व्हीलचेयर बाध्य हैं और महिला हैं, उसके बावजूद वह महाराष्ट्र के एसोसिएशन की अध्यक्ष रह कर पुरुषों के लिए भी मार्गदर्शक का काम कर रही हैं।  खुद व्हीलचेयर क्रिकेट इंडिया एसोसिएशन के अध्यक्ष और भारतीय व्हीलचेयर  क्रिकेट टीम के CEO स्क्वाड्रन लीडर अभय प्रताप सिंह (रिटायर्ड ) भी व्हीलचेयर पर हैं और पहले भारत के लिए व्हीलचेयर क्रिकेट खेल चुके हैं।
  व्हीलचेयर क्रिकेट इंडिया का लक्ष्य दिव्यांगों को खाली क्रिकेट खिलाना नहीं हैं बल्कि उन्हें अक्षमता से सामर्थ्य की तरफ ले जाना हैं।  इसी उद्देश्य की पूर्ती हेतु व्हीलचेयर क्रिकेट इंडिया की कोशिश रहती हैं की ज्यादा से ज्यादा जिम्मेद्दारी दिव्यांगों को दी जाएं जो उसे करने के बाद अपने आपको और समर्थ मह्सूस करते हैं और बाकि दिव्यांगों के लिए प्रेरणा का स्त्रोत बनते हैं।  
अब बहुत ही शीघ्र व्हीलचेयर क्रिकेट इंडिया एसोसिएशन भारत में एक बड़ी अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिता करने जा रही हैं जिसमे कम से कम ४ या उससे अधिक देशो की टीमों के भाग लेने की संभावना हैं।

No comments:

Post a Comment

Please put your words here. We would love to read your comments.